पुलिस ने कारवां-ऐ-सेहत के नाम उलेमाओं के साथ चलाया जागरूकता अभियान

Police campaigned Caravan-e-Sehat:

गंगनहर थाना क्षेत्र अंतर्गत पनियाला गांव, तेलीवाला,पाडली गुर्जर, शेखपुरी,अंबर तालाब, पुरानी तहसील व आजाद नगर में कारवां-ए-सेहत के नाम से कुछ जिम्मेदारों को ले कर अभियान चलाया।

अभियान के तहत मुस्लिम उलेमाओं,बुद्धिजीवियों तथा पुलिस अधिकारियों ने कोरोना से बचने के उपायों तथा संक्रमित लोगों का उपचार कराए जाने की अपील की। शहर मुफ्ती मोहम्मद सलीम, शायर अफजल मंगलोरी,मौलाना अरशद कासमी तथा थाना गंगनहर प्रभारी राजेश शाह ने सामूहिक रूप से ग्रामवासियों तथा क्षेत्र वासियों से अपील की कि।

अपील में उन्होंने कहा की सरकार की ओर से कोरोना संक्रमित लोगों का पूर्ण इलाज कराया जा रहा है,साथ ही उनकी देखभाल भी सही तरीके से की जा रही है। तबलीगी जमात से जुड़े लोगों तथा उनसे संपर्क में आने वाले व्यक्तियों की जानकारी व सूचना वरिष्ठ अधिकारियों एवं अपने धार्मिक उनको भी दें।

kaarwane-e-sehat abhiyan

जिससे कोरोना को बढ़ने से रोका जा सके।थाना प्रभारी राजेश शाह ने कहा कि गांव तथा गंग नहर के सभी क्षेत्रों में ड्रोन कैमरा द्वारा नागरिकों की सुरक्षा एवं गतिविधियों की जानकारी ली जा रही है, इसलिए जनता को चाहिए कि लोकडाउन की सीमा समाप्त होते ही अपने अपने घरों में रहे तथा बाहर भीड़ ना लगाएं।

मुफ्ती मोहम्मद सलीम ने कहा कि शबेबरात के दिन मुसलमान अपने घरों में रहकर इबादत करें। घरों से बाहर ना जाएं तथा कब्रिस्तान में जाने से भी बचें।उन्होंने कहा कि यह रात इबादत की रात है।इसमें जितनी ज्यादा से ज्यादा इबादत की जाए उतना कम है।इस अभियान में पूर्व मेयर यशपाल राणा, एसआई चौधरी प्रमोद कुमार,देवराज शर्मा,नवाब प्रधान,नफीस उल हसन आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Wordpress Social Share Plugin powered by Ultimatelysocial